in , , , , , ,

मंडी : सर्दियों के मौसम में बर्फबारी या अन्य आपदा से निपटने को प्रशासन मुस्तैद

मंडी।

जिला आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं उपायुक्त अरिंदम चौधरी ने सर्दियों के मौसम में बर्फबारी या अन्य किसी भी प्रकार की आपदा से निपटने के लिए जिला आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण की पूरी टीम को मुस्तैद रहने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि किसी भी आपदा के समय अलग-अलग विभागों के अधिकारी-कर्मचारी अपने विभाग विशेष के ही नहीं बल्कि आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण की टीम का हिस्सा होने के नाते कार्य करते हैं। इसलिए सभी अपनी प्राथमिकताओं को ठीक से समझ लें।
मंगलवार को उपायुक्त कार्यालय के सम्मेलन कक्ष में इससे जुड़ी तैयारियों को लेकर समस्त विभागों के जिला अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सर्दियों के दौरान जिला के निचले क्षेत्रों में भारी बारिश होने के साथ-साथ ऊपरी इलाकों चौहारघाटी, सिराज घाटी, शिकारी देवी, कमरूनाग क्षेत्र, रोहाण्डा, पंडार, बरोट, पराशर, थुनाग, जंजैहली तथा गाड़ागुशैणी सहित अन्य क्षेत्रों में अत्यधिक बर्फबारी व ओलावृष्टि की संभावना रहती है। इन संबंधित अधिकारियों को क्षेत्रों में जन जीवन को सुचारू रखने व ग्रामीणों को बिजली-पानी व राशन उपलब्ध करवाने, ईंधन भंडारण, जीवन रक्षक औषधियों के साथ-साथ यातायात सहित हर प्रकार की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए सजगता से काम करने को कहा।

उन्होंने सर्दियों के दौरान भारी बारिश व बर्फबारी के कारण बन्द होने वाली सड़कों को खोलने, बिजली व पेयजल की व्यवस्था सुचारू रखने के लिए सम्बन्धित विभागाधिकारियों को निर्देश दिए । उन्होंने पुलिस, पर्यटन व वन विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे सर्दियों के दौरान पराशर, बरोट, शिकारी देवी तथा कमरूनाग जाने वाले पर्यटकों व ट्रैकरों पर नजर रखें और किसी को भी ट्रैकिंग की अनुमति न दें ताकि इस दौरान किसी भी अप्रिय घटना से बचा जा सके।

उपायुक्त ने जिला के समस्त उपमण्डलाधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने क्षेत्र से संबंधित आपदा की जानकारी तुरंत जिला प्रशासन से साझा करने के तंत्र को मजबूत करें ।

आपदा की स्थिति में दें सूचना

उपायुक्त ने लोगों से अपील की कि किसी भी प्रकार की आपदा की स्थिति में तुरन्त जिला आपदा प्रबन्धन परिचालन केन्द्र के दूरभाष नम्बर 01905-226201, 202, 203,204, अथवा टोल फ्री 1077 नम्बर पर सूचित करें, ताकि किसी भी अप्रिय घटना से बचा जा सके ।

इस अवसर पर अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी राजीव कुमार, जिला राजस्व अधिकारी राजीव सांख्यान, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आशीष शर्मा सहित समस्त विभागों के जिला अधिकारी भी उपस्थित थे।

आप इस बारे में क्या विचार हैं? अपनी राय देने के लिए यहाँ क्लिक करे

प्रातिक्रिया दे

किन्नौर में कार सड़क हादसा, 2 घायल

बिलासपुर : झंडूता में 21 नवम्बर को होगा जनमंच कार्यक्रम का आयोजन – नरेश वर्मा