in , , , , , ,

खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री ने किया रपैड़ से छाम्ब-रोपा-भंजवाणी सड़क का लोकार्पण

बिलासपुर।

22 लाख रुपये की लागत से निर्मित सम्पर्क सड़क रपैड़ से छाम्ब-रोपा-भंजवाणी सड़क का लोकार्पण करने के उपरांत औहर पंचायत के गांव चनीयारी में जनसभा को सम्बोधित करते हुए खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजिन्द्र गर्ग ने कहा कि सड़के ग्रामीण आर्थिकी और विकास की भाग्य रेखाएं है।

प्रदेश सरकार का लक्ष्य हर गांव को सड़क सुविधा से जोड़ना है। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का सपना है कि प्रदेश में कोई भी पंचायत सड़क सुविधा से वंचित न रहे तथा हर पंचायत को मूलभूत सुविधाएं पहंुचाई जा सके।

उन्होंने कहा कि घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में साढ़े तीन सालों में जिसमें की डेढ़ साल का कोरोना काल भी शामिल है 110 सम्पर्क सड़कें लोगों की सुविधा के लिए निर्मित की गई है। उन्होंने कहा कि 82 करोड़ की लागत से पडयालग-लदरौर वाया भराड़ी सड़क का कार्य प्रगति पर है।

इसके अतिरिक्त इस विधानसभा क्षेत्र की बड़ी सड़कों को करोड़ों की लागत से स्तरोन्नत कर विस्तारीकरण व सुदृढ़ीकरण किया जा रहा है। बम पुल का कार्य भी लगभग पूर्ण हो चुका है और शीघ्र ही मुख्यमंत्री द्वारा लोगों को समर्पित कर दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि औहर क्षेत्र को विकसित करने के लिए 54 लाख रुपये खर्च किए जा रहे है। इस राशि को औहर बाजार के लिए 100 मीटर तक कंक्रीट नालियां, टाइलों व इसके सौंदर्यकरण के लिए खर्च किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 30 लाख रुपये की लागत से भगेड़ से औहर पुरानी सड़क पर 2.5 किलोमीटर की टायरिंग की जाएगी।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल के चलते कठिन परिस्थितियों में भी मुख्यमंत्री के मार्गदर्शन में विकास की गति रूकी नहीं है और कोरोना को मात देने के लिए प्रदेश में जहां दो आॅक्सीजन प्लांट थे वहां वर्तमान में 28 आॅक्सीजन प्लांट स्थापित किए गए है जिसमें से 3 आॅक्सीजन प्लांट जिला बिलासपुर में भी है। इसके लिए उन्होंने दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी के अध्यक्ष जे.पी नड्डा और केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर का भी आभार व्यक्त किया।

उन्होंने जे.पी नड्डा द्वारा करवाए गए विकास कार्यों को समरण करते हुए कहा कि घुमारवीं क्षेत्र के लिए 11 करोड़ की लागत से नागरिक चिकित्सालय घुमारवीं के परिसर में आधुनिक सुविधाओं से परिपूर्ण चार मंजिला आईपीडी भवन निर्मित किया जा रहा हैै। उन्होंने कहा कि घुमारवीं नागरिक चिकित्सालय में 50 से 100 बिस्तरों और 5 से 11 विशेषज्ञ डाॅक्टर उपलब्ध है। मरीजों की सुविधा के लिए अस्पताल के नजदीक ही फुटब्रिज का निर्माण भी करवाया जा रहा है।

घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में पेयजल समस्या को दूर करने के लिए जल जीवन मिशन के तहत 85 करोड़ रुपये खर्च कर हर घर को नल उपलब्ध करवाया जा रहा है। इसके अतिरिक्त 53 करोड़ की लागत से कोल डैम से घुमारवीं क्षेत्र के लिए पेयजल योजना प्रगति पर है। इसके तहत मैहरन और लदरौर में 7-7 लीटर के टैंट भी निर्मित किए जा रहे है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा हिमाचल के निचले क्षेत्रों के लिए एचपी शिवा प्रोजेक्ट के तहत बागवानों को फलदार पौधे, जमीन को समतल करवाना, सिंचाई व जंगली जानवरों से बचाव के लिए सोलर फैसिंग की सुविधा मुफ्त उपलबध करवाई जा रही है जिससे बेरोजगार युवाओं को रोजगार की असीम सम्भवनाएं मिलेगी।

उन्होंने कहा कि औहर और इसके आसपास के क्षेत्र के लिए रोपा, भजवाणी आदि गांव के लिए थ्री फैज विद्युत लाईन के लिए 94 हजार रुपये, 8 लाख रुपये की लागत से 63 के.वी. का ट्रांसफार्मर और 5 लाख 62 हजार रुपये की लागत से पुराने खम्बों को बदला जा रहा है। उन्होंने आश्वासन दिया कि निकट भविष्य में भजवाणी में लोगों की सुविधा के लिए पुल और सीता देवी के घर के लिए फुटब्रिज उपलब्ध करवाया जाएगा।

इस अवसर पर मण्डलाध्यक्ष सुरेश ठाकुर, एससी मोर्चा के अध्यक्ष धनी राम सांखला, प्रधान ग्राम पंचायत औहर प्रेम लता ठाकुर, उप प्रधान रंजीत वर्धन, युवा मोर्चा सचिव मदन वर्मा, पूर्व प्रधान जगत राम, देश राज शर्मा, वरिष्ठ कार्यकर्ता अंजिम चंदेल, अमित सोडी, प्रकाश चंदेल, बीडीओ स्पर्श शर्मा, अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण दीपक कपिल, अधिशाषी अभियंता विद्युत राजेश खरयाल सहित विभिन्न गणमान्य व अधिकारी उपस्थित रहे।

आप इस बारे में क्या विचार हैं? अपनी राय देने के लिए यहाँ क्लिक करे

प्रातिक्रिया दे

क्रिकेट : मैथ्यू वेड के 3 गेंद पर 3 तूफानी छक्कों से आस्ट्रेलिया ने जीत लिया मैच

मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना का लें लाभ, शुरू करें अपना काम-धंधा