in , , , , ,

KBC शो में मंडी के अनिल ने जीते 6 लाख 40 हजार रूपये

मंडी।

कौन बनेगा करोड़पति के मंच पर मंडी के पैलेस कॉलोनी निवासी अनिल गुप्ता 6 लाख 40 हजार रुपए जीतकर शो से बाहर हो गए हैं। बुधवार को आयोजित शो में वे उनसे ‘1963 में किस सांसद ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया था’ सवाल पूछा गया, जिसका उन्होंने उत्तर न देने का फैसला लिया और शो से बाहर हो गए।

आपको बता दें कि अनिल गुप्ता केबल ऑप्रेटर का कार्य करते हैं और कौन बनेगा करोड़पति के मंच पर पहुंचकर वे साढ़े 12 लाख रुपए जीत चुके थे। यह दूसरा मौका था जब मंडी से कोई व्यक्ति महानायक अमिताभ बच्चन के सामने बैठकर उनके सवालों के जवाब दे रहा था। इससे पूर्व भी मंडी के अधिवक्ता श्याम कुमार शर्मा भी केबीसी के मंच पर अपनी उपस्थिति दर्ज करवा चुके हैं।

अनिल गुप्ता से जब अमिताभ बच्चन ने पूछा कि आप दिन में 20 कप चाय पी जाते हैं, क्या यह सच है तो इसके जवाब में अनिल ने कहा कि मेरी लाइफ में जो कुछ भी हुआ वो चाय की दुकान से ही हुआ है।

अपने शहर के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि हमारे शहर में छुन्ना-मुन्ना टी स्टाल मशहूर है। जहां सभी दोस्त लोग इकट्ठे होकर चाय पीते हैं और गप्पें लड़ाते हैं। उन्होंने बताया कि उनके दोस्त छुन्ना टी स्टाल में चाय पीने के बाद ही खेलने जाते थे, वहीं उनकी धर्मपत्नी पूनम से मुलाकात भी चाय की कैंटीन में ही हुई है।

इस पर अमिताभ बच्चन ने कहा कि चाय से आपका व्यावसायिक और पारिवारिक रिश्ता है। वैसे भी पहाड़ी इलाकों में चाय पीने का ज्यादा रिवाज है। किस तरह की चाय पसंद है आपको। इस पर अनिल गुप्ता ने कहा कि हम चाय स्वाद के लिए नहीं, बस पीने के लिए ही पीते हैं।

80 के दौर में मुख्य डाकघर रोड पर छुन्ना-मुन्ना टी स्टाल के अंदर व बाहर चाय पीने वालों की भारी भीड़ लगी रहती थी। इसके बाद छुन्ना-मुन्ना टी स्टाल काॅलेज कैंटीन में स्थानांतरित हो गया और इसके बाद यह कालेज के छात्रों का पसंदीदा स्थान बन गया।

उसी दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जब मंडी काॅलेज में पढ़ाने आए तो वह भी अपना अधिकांश समय छुन्ना-मुन्ना के यहां चाय व समोसे खाते हुए बिताते थे।

आप इस बारे में क्या विचार हैं? अपनी राय देने के लिए यहाँ क्लिक करे

प्रातिक्रिया दे

मंडी एयरपोर्ट से रात के वक्त भी चलेंगे विमान – मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर

बिलासपुर : गोपाष्टमी के अवसर पर नैना देवी गौ सदन कुठेड़ा में किया गया हवन यज्ञ