in , , , , , ,

अब शराब की बोतल के लेबल पर भी हिमाचली नाटी के दर्शन होंगे

शिमला।

हिमाचल प्रदेश की नाटी देश में ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व में मशहूर है। अब इसकी मशहूरी और बढऩे वाली है, क्योंकि शराब की बोतल के लेबल पर भी हिमाचल नाटी के दर्शन होंगे।

आपको बता दें कि नाटी नंबर वन संतरा के नाम से देसी शराब का एक नया ब्रांड लाॅन्च हुआ है। जिला सिरमौर में यह ब्रांड बन रहा है। शराब की बोतल के लेबल पर नाटी की जो फोटो लगी है, वह आमतौर सरकारी होर्डिंग्स में भी देखने को मिल जाती है।

राज्य कर एवं आबकारी विभाग की मानें तो इसमें गलत कुछ भी नहीं है लेकिन हिमाचल की नाटी से प्रदेश के लोगों का एक भावनात्मक लगाव ही नहीं, बल्कि प्रदेश की एक पहचान होने के कारण इस पर गर्व भी है।

अब इसके नाम से शराब का ब्रांड शुरू होने से लोग निराश हो गए हैं। इसको लेकर सोशल मीडिया पर भी चर्चा शुरू हो गई है। विभाग की कार्यप्रणाली पर भी सवाल खड़े किए जा रहे हैं। प्रदेश के देसी शराब के ठेकों में इसकी आपूर्ति शुरू हो गई है। सोलन में पहुंचते ही नाटी नंबर वन सोशल मीडिया पर वायरल होनी शुरू हो गई थी।

अब शराबी सड़कों, गलियों व रास्तों में नाटी नंबर वन को हाथ में लेकर नाटी डालते नजर आएं तो इसमें भी कोई अचरज नहीं होगा। इसके खिलाफ सोशल मीडिया पर मुहिम भी शुरू हो गई है। इससे आने वाले समय में सरकार की भी मुश्किलें बढ़ सकती हैं, क्योंकि लोग इसे जनभावना से जोड़कर देख रहे हैं। इससे नाटी की नहीं, बल्कि शराब की मशहूरी ही होगी। स्थिति यह हो गई है कि देसी शराब में इस ब्रांड की डिमांड अचानक बढ़ गई है। अब यह देखना दिलचस्प हो गया है कि आने वाले दिनों में नाटी प्रदेश में क्या गुल खिलाती है।

राज्य कर एवं आबकारी विभाग सोलन के उपायुक्त हिमांशु ने बताया कि देसी शराब में नाटी नंबर वन नई ब्रांड लांच हुई है। जिला सिरमौर में इसका उत्पादन हो रहा है। इस लेबल से शराब लांच होना कानूनन गलत नहीं है। नियमों के अनुसार ही लेबल दिया गया होगा। यदि इसको लेकर कोई विवाद है, तो इसकी उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

आप इस बारे में क्या विचार हैं? अपनी राय देने के लिए यहाँ क्लिक करे

प्रातिक्रिया दे

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने बोर्ड परीक्षाओं के लिए आवेदन करने की तिथि को बढ़ाया

हिमाचल के इस जिले में पहली बार होने जा रही है रिवर राफ्टिंग चैंपियनशिप